ईशा ग्रामोत्सव
ईशा ग्रामोत्सवम, ग्रामीण जीवन में खेलों को लाने, ग्रामीणों की संपूर्ण सेहत और उनके जीवन की गुणवत्ता सुधारने तथा सामुदायिक कायाकल्प को बढ़ावा देने के लिए एक बड़े पैमाने का आयोजन है।
 
 
 
 

ईशा ग्रामोत्सवम खेलों को ग्रामीण जीवन का हिस्सा बनाने, गांववालों की संपूर्ण सेहत और जीवन की गुणवत्ता को बेहतर बनाने तथा सामुदायिक पुनर्जीवन को बढ़ावा देने के लिए एक बड़े पैमाने की पहल है। यह उत्सव ईशा फाउंडेशन के ग्रामीण कायाकल्प कार्यक्रम का एक अंग है और गांवों के बीच राज्य भर में होने वाले खेल टूर्नामेंट के आखिरी दौर के साथ समाप्त होता है।

खेल ईशा के ग्रामीण पुनर्जीवन प्रयासों का एक अभिन्न अंग हैं। वे जाति की बेड़ियों को तोड़ कर, बुरी लतों से छुटकारा देकर, और सामुदायिक भावना को मजबूत करके ग्रामीणों में खुशहाली का एक नया स्तर लाते हैं। ये खेल बुजुर्ग और युवा, पुरुषों और स्त्रियों सहित सभी पृष्ठभूमि और आर्थिक स्तरों के ग्रामीणों को एक साथ लाते हैं। वयस्क महिलाओं, खास तौर पर बुजुर्ग महिलाओं के लिए कुछ साल पहले तक खेल के बारे में सोचना नामुमकिन था। मगर खेलों ने उन्हें आत्मविश्वास दिया है और उन्हें अपने जीवन को रूपांतरित करने की प्रेरणा दी है। जुड़ाव की एक नई भावना ने सामुदायिक ग्रामीण पुस्तकालयों, सूक्ष्म ऋणों और उल्लासपूर्ण खेल उत्सवों को बढ़ाया है, जिसने कई रूपों में लोगों का जीवन बदला है।