महाशिवरात्रि - ईश्वरीय कृपा और अनुकंपा से सराबोर रात
आज ईशा फाउन्डेशन आनंद और उत्सव भरा पूरी रात चलने वाला महाशिवरात्रि महोत्सव मना रहा है। इसका आयोजन वेलियांगिरी पहाड़ियों की तराई में स्थित ईशा योग केन्द्र में ...
 
mahashivaratri 2013
 

आज ईशा फाउन्डेशन आनंद और उत्सव भरा पूरी रात चलने वाला महाशिवरात्रि महोत्सव मना रहा है। इसका आयोजन वेलियांगिरी पहाड़ियों की तराई में स्थित ईशा योग केन्द्र में  किया जा रहा है।

इस महोत्सव में भाग लेने और सद्‌गुरु का सानिध्य पाने के लिए दुनिया के हर कोने से करीब 8 लाख लोग योग केन्द्र पहुंच रहे हैं। इस कार्यक्रम में सद्‌गुरु के प्रवचनों और शक्तिशाली ध्यान प्रक्रियों के साथ-साथ दुनिया के कुछ मशहूर कलाकारों के नृत्य और संगीत की बहार भी देखने को मिलेगी। रघु दीक्षित और उनका  फोक-रॉक बैंड ‘द रघु दीक्षित प्रॉजेक्ट’, शास्त्रीय और आधुनिक नृत्यांगना अनीता रत्नम और विख्यात कर्णाटक गायिका पद्दमश्री अरुणा साइराम अपनी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी पेश करेंगे। बीच-बीच में आप देखेंगे ईशा की संगीत मंडली ‘साउन्ड्स ऑफ ईशा’ की झूमाने व थिरकाने वाली संगीत का जादू।

यह प्रसारण हिंदी आस्था चैनल, तमिल जया प्लस, पॉलिमर टी वी और तेलगू भक्ति टीवी  के जरिए दुनिया भर में 3 करोड़ लोगों तक पहुंचेगा। ईशा फाउन्डेशन इस महोत्सव का लाइव वेबकास्ट भी करेगा जिसे आप mahashivaratri.org पर देख सकते हैं। इसके अलावा, भारत और दुनिया भर में अन्य 70 केन्द्रों में भी यह उत्सव रात भर पूरे उल्लास के साथ मनाया जाएगा।

आईये इस ब्लाग पर आप सारी रात चलने वाले महोत्सव के सीधे प्रसारण का आनंद लें । शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक।

[liveblog]

 

 
 
 
 
Login / to join the conversation1
 
 
5 वर्ष 3 महिना पूर्व

मैं मुझे मृत्यु का डर है, न जाति का भय

निर्वाण षटकम के पांचवे श्लोक के अनुवाद मे गलती है. कृपया सुधारें.

5 वर्ष 3 महिना पूर्व

कृपया माफ करेंगे, सीधा प्रसारण की अपनी सीमाएं हैं। बावजूद इसके हमारी
भरपूर कोशिश रहेगी कि हम इस तरह की तृटियों से बचें। सुझाव के लिए
धन्‍यवाद।