भैरवी साधना

एक दिव्य आयाम की खोज करें
दीक्षा और समापन ऑनलाइन आयोजित किए जाएंगे।

28 दिसंबर 2021 को दीक्षा

Registration Closed
 

भैरवी साधना

एक दिव्य आयाम की खोज करें
दीक्षा और समापन ऑनलाइन आयोजित किए जाएंगे।

28 दिसंबर 2021 को दीक्षा

Registration Closed
seperator
 

जब आप खुद को खाली कर देते हैं, तब देवी के पास आपकी मदद करने के अलावा कोई चारा नहीं रहता। और, अगर देवी आपके साथ हैं, तो मेरे पास भी कोई चारा नहीं है (सिवाय इसके कि मैं भी आपका साथ दूं)। - सद्‌गुरु

भैरवी साधना, अपने अंदर भक्ति जागृत करने का एक अवसर है।

इस साधना की शुरुआत, उत्तरायण के शुरूआती दिनों के दौरान होती है, जब धरती से देखने पर सूर्य आकाश में उत्तर की ओर जाता दिखाई देता है। यह समय आध्यात्मिक ग्रहणशीलता के लिए मददगार होता है।

महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए दीक्षा एक ही दिन है। हालांकि, महिलाओं के लिए, यह साधना तईपूसम और पुरुषों के लिए तई अमावस्या पर समाप्त होती है।

महिलाओं के लिए समापन: 18 जनवरी 2022

पुरुषों के लिए समापन: 31 जनवरी 2022

 
भैरवी साधना क्यों?
seperator
 

किसी व्यक्ति की आकांक्षा चाहे जो भी हो - स्वास्थ्य, धन, ज्ञान या आत्मज्ञान - देवी इन सभी चीज़ों की और कई दूसरी चीज़ों की परम दाता हैं।

  • यह हमारी ग्रहणशीलता को बढ़ाने के लिए एक गहन प्रक्रिया है
  • विशेष साधनाओं, अनुशासन और अर्पण के माध्यम से देवी की कृपा प्राप्त करें
  • अपने घर में आराम से बैठकर ऑनलाइन दीक्षा और समापन
 
हिस्सा लेने के लिए:
seperator
 

चरण 1: इस साधना के लिए रजिस्टर करें।

चरण 2: दीक्षा के दिन से पहले दीक्षा ओरिएंटेशन वीडियो देखें। (रजिस्ट्रेशन करने के बाद यह आपको ईमेल द्वारा भेजा जाएगा।)

चरण 3: 28 दिसंबर 2021 को ऑनलाइन दीक्षा सत्र में भाग लें। (शामिल होने का समय और वेब लिंक आपको ईमेल के माध्यम से भेजा जाएगा।)

चरण 4: जो अवधि आपको बताई जाती है, उतने समय तक दिशा-निर्देशों के अनुसार साधना करें।

चरण 5: समापन के दिन से पहले समापन ओरिएंटेशन वीडियो देखें। (रजिस्टर करने के बाद यह आपको ईमेल द्वारा भेजा जाएगा।)

चरण 6: 18 जनवरी (महिलाएं), 31 जनवरी (पुरुष) को ऑनलाइन समापन सत्र में भाग लें।

 
आपकी साधना के लिए ज़रूरी वस्तुएँ:
seperator
 

भैरवी साधना किट (ईशा लाइफ पर ऑर्डर करें) में ये चीज़ें शामिल होंगी:

  • देवी फोटो
  • अभय सूत्र
  • कुमकुम
  • देवी स्तुति

आपको देवी पेंडेंट (मौजूदा या नया) पहनना होगा। अगर आपको यह खरीदना है, तो इसे ईशा लाइफ से खरीदा जा सकता है।

दीपक (तिल का तेल, घी, अरंडी का तेल सबसे अच्छा है, वरना कोई भी दूसरा वनस्पति तेल जो उपलब्ध हो) या मोमबत्ती (अगर बीसवैक्स का इस्तेमाल किया जाए, तो बेहतर होगा)

हर रोज़ अर्पित करने के लिए हरे चने या काले तिल

आप चाहें तो देवी फोटो के नीचे लाल कपड़ा रख सकते हैं। (अगर सूती कपड़े का इस्तेमाल जाए, तो बेहतर होगा)

आपकी साधना के लिए ज़रूरी दूसरी सामग्री:

  • मधु
  • काली मिर्च के दाने
  • कर्पूरवल्ली (मैक्सिकन मिंट/क्यूबन अजवायन)। अगर उपलब्ध नहीं है, तो आप नीम के पत्तों (या नीम पाउडर) का उपयोग कर सकते हैं।
  • सफेद या हल्के रंग के कपड़े
  • अंकुरित हरे चने
  • हर्बल स्नान पाउडर या हरे चने का पाउडर। (आप इसे घर पर कैसे तैयार करें, इसकी जानकारी अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न वाले हिस्से में प्राप्त की जा सकती है।)

दीक्षा के दिन से पहले इन सभी वस्तुओं को तैयार करना ज़रूरी है। इनका उपयोग कैसे करें, इसकी जानकारी दीक्षा के दिन आपके साथ साझा की जाएगी।

 
साधना अवधि के दौरान पालन करने के लिए दिशानिर्देश:
seperator
 

दीक्षा सत्र के दौरान निर्देश दिए जाएंगे। हालाँकि, साधना के दौरान कुछ ध्यान रखने योग्य बातें नीचे दी गई हैं:

  • हर्बल बाथिंग पाउडर से दिन में दो बार नहाना (रासायनिक उत्पादों का इस्तेमाल न करें)
  • धूम्रपान न करें
  • शराब का सेवन न करें
  • मांसाहारी भोजन न करें
  • एक दिन में केवल 2 भोजन। पहला भोजन दोपहर 12 बजे के बाद करें।
  • सफेद या हल्के रंग के वस्त्र ही पहनें।
 
अधिक जानकारी के लिए:
seperator
 
 
सम्पर्क की जानकारी
seperator
 

और अधिक जानकारी पाने के लिए, या कोई भी प्रश्न पूछने के लिए, कृपया हमसे संपर्क करें:

ईमेल: bhairavi.sadhana@lingabhairavi.org

फोन: +91-83000 83111

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

seperator

भैरवी साधना, अपने भीतर भक्ति को जागृत करने का एक अवसर है। यह साधना विशेष अभ्यासों, अनुशासन और अर्पण के माध्यम से देवी की कृपा के प्रति अपनी ग्रहणशीलता को बढ़ाने की एक गहरी प्रक्रिया है।

हाँ, पुरुष भी इस साधना में भाग ले सकते हैं।

हां, साधकों को एक शक्तिशाली देवी मंत्र और देवी दंडम में दीक्षित किया जाएगा।

इसमें हिस्सा लेने के लिए उम्र कम से कम 7 वर्ष होनी चाहिए।

इस साधना की शुरुआत, उत्तरायण की शुरूआत के दौरान होती है, जब सूर्य आकाश में उत्तरी गोलार्ध की ओर जाता है। यह समय आध्यात्मिक रूप से ग्रहणशील बनने में मददगार होता है। महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए दीक्षा की तारीख 28 दिसंबर 2021 है।

हाँ, आप भैरवी साधना किसी भी दूसरी साधना के साथ कर सकते हैं।

भैरवी साधना रजिस्ट्रेशन के लिए फीस 110 रुपये है।

आपको 50 रुपये की लागत वाली भैरवी साधना किट ज़रूर खरीदनी होगी। इसके अलावा, अगर आपके पास देवी पेंडेंट नहीं है, तो आपको एक देवी पेंडेंट खरीदना होगा। ऊपर दी गई सभी चीज़ें, दीक्षा की तारीख से पहले ईशा लाइफ से खरीदी जा सकती हैं।

क्योंकि यह एक-चरणीय रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया है, तो अगर आप पहले प्रयास में भुगतान पूरा करने में असफल रहे, तो आपको फिर से रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरना होगा। डेस्कटॉप या लैपटॉप की मदद से रजिस्टर करना और भुगतान करना बेहतर है।

अगर आप कुछ प्रयासों के बाद भी रजिस्टर नहीं कर पा रहे हैं, तो किसी दूसरे ब्राउज़र, ईमेल आईडी का उपयोग करने की सलाह दी जाती है, और अपने सिस्टम से पेज हिस्ट्री/कैश को भी डिलीट करें।

अगर आप कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं, तो +91 83000-83111 पर कॉल करें।

भैरवी साधना किट ज़रूरी है। किट में शामिल पवित्र/प्राण-प्रतिष्ठित वस्तुएं साधना के दौरान मदद करती हैं।

भैरवी साधना समापन की सुविधा ऑनलाइन उपलब्ध होगी।

  • महिलाओं के लिए समापन तारीख: 18 जनवरी 2022
  • पुरुषों के लिए समापन तारीख : 31 जनवरी 2022

हां, लेकिन अगर वे 5 महीने से गर्भवती हैं, तो उनके लिए देवी दंडम करना संभव नहीं होगा। ऐसे में देवी दंडम मानसिक रूप से किया जा सकता है (आंख बंद करके देवी दंडम की कल्पना करके)। साथ ही गर्भावस्था के दौरान अगर वे उपवास नहीं कर पा रही हैं - तो वे फलों का सेवन कर सकती हैं, और बीच-बीच में नींबू पानी के साथ शहद मिलाकर पी सकती हैं। गर्भवती महिलाओं को नीम का सेवन नहीं करना चाहिए।

हां, ऐसा कोई प्रतिबंध (मनाही) नहीं हैं।

हाँ, आप साधना के लिए रजिस्टर कर सकते हैं।

कृपया नीचे दिया गया नुस्खा देखें:

घर का बना हर्बल पाउडर

शरीर के लिए – इसे बनाने की विधि 1

1 कप सूखी मूंग को एक ट्रे (या छिलके सहित मूंग दाल) पर फैलाएं और उन्हें एक दिन के लिए सीधी धूप में रख दें, या 30-40 मिनट के लिए कम तापमान वाले ओवन (200 डिग्री) में रखें। बीन्स को ठंडा होने दें और फिर सूखे बीन्स को फूड प्रोसेसर में डालें, और 1/4 कप सफेद चावल डालें। फ़ूड प्रोसेसर में बीन्स और चावल को एक साथ बारीक पीस लें। (ज़रूरत के अनुसार किसी भी मोटे टुकड़े को निकालने के लिए एक छलनी का प्रयोग करें।) 2 चम्मच हल्दी का पाउडर डालकर एक सीलबंद कंटेनर में स्टोर करें। अगर इस पाउडर को ठंडी सूखी जगह पर रखा जाए, तो इसे महीनों तक रखा जा सकता है।

हर्बल स्नान करने के लिए: 1-2 बड़े चम्मच महीन पाउडर को थोड़े से पानी में मिलाकर पतला पेस्ट बना लें। पेस्ट को अपनी त्वचा पर रगड़ें, और इसे धोने से पहले कुछ मिनट के लिए हवा में सूखने दें।

शरीर के लिए – इसे बनाने की विधि 2

सबसे पहले, पाउडर मिश्रण का बेस बनाएं

हरे चने (साबुत मूंग/मूंग दाल) का पाउडर और बेसन (बेसन) बहुत अच्छे नहाने के पाउडर हैं। दोनों को मिलाएं और आपका पाउडर मिश्रण बेस तैयार हो जाएगा। भले ही इनमें से केवल एक सामग्री उपलब्ध हो, तब भी ठीक है।

उपलब्धता और अपनी पसंद के आधार पर, आप अपने पाउडर मिश्रण बेस में इनमें से कोई भी या सभी चीज़ें डाल सकते हैं।

1 कप मूंग + बेसन पाउडर मिश्रण बेस के लिए आप चाहें तो यह चीज़ें डाल सकते हैं:

  • 1 छोटा चम्मच ऑर्गेनिक हल्दी पाउडर/हल्दी
  • 1 बड़ा चम्मच चावल का आटा
  • 1 बड़ा चम्मच आमला
  • 1 बड़ा चम्मच तुलसी पाउडर
  • 1 बड़ा चम्मच नीम पाउडर
  • 1 टेबल-स्पून सूखा नींबू या संतरे के छिलके का पाउड

इन सामग्रियों को डालना ज़रूरी नहीं है, पर अगर इन्हें डाला जाए, तो यह फायदेमंद हैं।

सभी चीज़ें को एक साथ मिलाएं, और एक एयरटाइट कंटेनर में डाल दें।

नहाने से पहले इस मिश्रण के दो बड़े चम्मच लेकर पानी में मिला लें। यह पक्का करें कि इसमें कोई गांठ नहीं है।

आप तुरंत नहा सकते हैं, मिश्रण को ज्यादा देर तक भिगोने की जरूरत नहीं ह

बालों के लिए – इसे बनाने की विधि 1

रीठा, अमला और शिकाकाई को बालों की सफाई और पोषण के लिए सबसे अच्छा मिक्सचर माना जाता है, और हमारे पूर्वजों द्वारा लंबे समय से इसका इस्तेमाल किया जाता रहा है।

परंपरागत रूप से, उन्हें लोहे के बर्तन में एक साथ पकाया जाता है, और अगले दिन लगाने के लिए रात भर रखा जाता है।

क्योंकि पके हुए मिश्रण की शेल्फ लाइफ कम होती है, और इसे बनाने की प्रक्रिया हममें से अधिकांश लोगों के दैनिक जीवन में व्यावहारिक (प्रैक्टिकल) नहीं हो सकती है, इसलिए हम उन्हें पाउडर के रूप में खरीद सकते हैं और लगाने से पहले उन्हें पानी में भिगो सकते हैं।

बेहतरीन नतीजों के लिए इसकी ज़रूरी मात्रा लें, और एक घंटे पहले या रात भर भिगो दें। यह पक्का करें कि उसका पेस्ट इतना गाढ़ा हो कि वह आसानी से बहने न लगे।

अपने बालों को गीला करें, मिश्रण को धीरे से लगाएं और अच्छी तरह धो लें। इसे लंबे समय तक लगाए रखने की ज़रूरत नहीं है.

 

अनुभव