आत्म ज्ञान - एक गहन विश्लेषण

मूलभूत प्रक्रिया की स्पष्ट समझ के साथ एक आंतरिक अनुभव से निकले सद्गुरु के उत्तर एक ऐसे विषय पर प्रकाश डालते हैं जो लोगों का ध्यान आकृष्ट करने लगा है, जो कि पहले कभी नहीं हुआ था।
 
 
 
 

आत्म ज्ञान - एक गहन विश्लेषण

“अगर आप इस बारे में पहले से ही नहीं जानते तो जान लें, कि नब्बे प्रतिशत से अधिक लोगों के लिए अपने आत्म-बोध का क्षण तथा शरीर से विदा लेने का क्षण एक ही होता है। केवल वही लोग, जो अपने शरीर के सभी दाँव-पेंचों, इसकी सारी प्रक्रियाओं और सारी बारीकियों से परिचित हैं, केवल वही इसे संभाल सकते हैं।”

ई-बुक यहाँ प्राप्त करें