Breathtaking Activity
In this week's Spot, Sadhguru writes about the flurry of events happening in the past week - from the Salem Mega Program to the Isha Home School Sports Day. "These last few weeks have been breathtaking (literally). I wonder whether I am getting old or if the activity is getting heaped up!"
 
 
 
 

[twocol_one]

click on photo to zoom

click on photo to zoom

[/twocol_one]
[twocol_one_last]
[translate lang=english]

These last few weeks have been breathtaking (literally). Breathtaking level of activity. I wonder whether I am getting old or if the activity is getting heaped up. I see that since the age of 25, my weight has varied in the range of only 3 -5 kilograms and just about everything else is normal. A German quack doctor, after complex tests, said that my cellular age is still 25. At least physically, I stopped growing. But I think I need a few treks in the mountains or at least a golf outing to get my breath back.

Of all the things that have gone by, a few events of the past week stand out. It was a joy to be at the Isha Home School Sports Day. It is great to see how the children are shaping up. This cannot be complete without kudos for all those who are conducting the school process. In a short span of time, what has been achieved is commendable. Every time I walk into the school, I cannot help thinking why I did not study in a school like this. It is a fortune for a child to be there - only wish we could accommodate more.

The Salem Mega Program was a phenomenal success. For a little city like Salem to enroll 10,300 participants for a three-day event is a never-before happening. The extraordinary discipline and enthusiasm with which Salemites participated is exemplary and a true revolution in this city. The role that our little ones, the Isha Samskriti children, are playing in the making of these programs is becoming indispensible. These children are truly amazing.

Yesterday, we had Sri Gurinder Singh Ji of the Radha Soami Satsang Beas as our guest, a great leader and a wonderful human being. It is nice to be catching up with some dynamic and dignified spiritual clan.

Our Southeast Asia activity is also catching up. I never had the necessary time to pay attention to this part of the world, and it’s been wonderful being in Japan and Singapore, with possible mega programs in Malaysia and Singapore coming up. I really wanted to get back to Singapore for the F1 Races on 23-25 Sept, and also to surprise the Singapore meditators, but the engagements here did not allow it. So maybe instead of surprising them, I disappointed them a bit, but we will be catching up with Singapore soon.

Today, I am leaving for Australia en route to the USA. Out of India for awhile…

[/translate]

[translate lang=hindi]

ये पिछले कुछ सप्ताह बहुत ही विस्मयकारी (वाकई में) रहे हैं। विचित्र ढंग की गतिविधियां। मैं सोचता हूं क्या मैं बूढ़ा हो रहा हूं या गतिविधियां बहुत बढ़ती जा रही है। मैं देख पाता हूं कि 25 वर्ष की मेरी उम्र से मेरा वजन 3-4 किलो ही कम ज्यादा हो रहा है और बाकी सब सामान्य है। एक जर्मन नीमहकीम डाक्टर ने जटिल परिक्षणों के बाद, कहा कि मेरी कोशिकीय उम्र 25 वर्ष ही है। कम से कम शारीरिक रूप से मेरा विकास रुक गया है। लेकिन मुझे लगता है कि मुझे पहाड़ी यात्रा करने की जरूरत है या गोल्फ खेलने की ताकि मैं अपनी श्वास फिर से ले सकूं।

पिछली घटनाओं पर जब मैं नजर दौड़ाता हूं, पिछले सप्ताह की कुछ घटनाएं उभरकर सामने आती हैं। ईशा होम स्कूल के स्पोर्टस डे पर उपस्थित होना बहुत ही आनंददायी था। यह देखना बहुत सुखद था कि बच्चे कैसे विकसित हो रहे हैं। जो लोग स्कूल की प्रक्रिया को संचालित कर रहे हैं उनकी तारीफ के बगैर यह पूरा नहीं हो सकता है। अल्प समय में, जो कुछ अर्जित किया गया है वह सराहनीय है। हर बार जब भी मैं स्कूल में प्रवेश करता हूं, मैं यह विचार करने से रुक नहीं सकता कि मैंने ऐसे स्कूल में शिक्षा क्यों नहीं ली। यहां होना एक बच्चे के लिए सौभाग्यपूर्ण है—मैं आशा करता हूं कि हम और भी अधिक बच्चों के लिए जगह बना पाएं।

सेलम मेगा प्रोग्राम असाधारण सफलता थी। सेलम जैसे छोटे से शहर में तीन दिन के कार्यक्रम के लिए 10,300 सहभागियों का आना पहले कभी भी नहीं हुआ है। जिस असाधारण अनुशासन व उत्साह के साथ सेलम के सहभागियों ने हिस्सा लिया वह उदाहरण काबिल और शहर में असली क्रांति है। इन कार्यक्रमों को बनाने में ईशा संस्कृति के छोटे बच्चों की भूमिका वाकई सराहनीय है, ये बच्चे सच में अद्भुत हैं।

कल, हमारे यहां राधास्वामी सत्संग ब्यास के श्री गुरिन्दर सिंह जी हमारे मेहमान थे, वे एक महान नेता और अद्भुत इंसान हैं। एक ऊर्जस्वी और गौरवशाली आध्यात्मिक परंपरा के साथ जुड़ना बहुत अच्छा लगता है।

हमारी दक्षिण पूर्व एशियाई गतिविधियां भी बढ़ती जा रही हैं। दुनिया के इस हिस्से पर ध्यान देने का मेरे पास कभी भी पर्याप्त समय नहीं रहा, पर मलेशिया व सिंगापुर में संभवत: विशाल कार्यक्रम का आयोजन होने जा रहा है, हाल ही में जापान व सिंगापुर का प्रवास बहुत ही आश्चर्यजनक रहा। मैं 23-25 सिंतबर को एफ1 रेस में मैं सचमुच सिंगापुर जाना चाहता था, और सिंगापुर के साधकों को चकित भी कर देना चाहता था, लेकिन यहां की व्यस्तता के कारण यह नहीं हो पाया। इसलिए उन्हें चकित कर देने की जगह, मैंने उन्हें कुछ हताश किया है लेकिन सिंगापुर में हम शीघ्र ही मिलने वाले हैं।

आज, मैं अमरीका के रास्ते में आस्ट्रेलिया के लिए रवाना हो रहा हूं। कुछ समय के लिए भारत से बाहर...
[/translate]

Love & Grace

[/twocol_one_last]

 
 
 
 
Login / to join the conversation1
 
 
6 வருடங்கள் 8 மாதங்கள் க்கு முன்னர்

Long live Sadhguru. Please take care of your health.

6 வருடங்கள் 8 மாதங்கள் க்கு முன்னர்

what a such a Guru we have, still Sadhguru doing lot of lot of activity, it's amazing. No more words. always we stay with Sadhguru

6 வருடங்கள் 8 மாதங்கள் க்கு முன்னர்

Out of India but not Out of Us Sadhguru... You are a Present to us Sadhguru, so you are always New, never old.. Mega Classes in Singapore and Malaysia!!!!!! just the thought makes me jump around.. Cant imagine how breathtaking the job is if You tell us that it is breathtaking.. So much for the Love for Us.. I am wordless.. Pranams Guru.. Pranams..

6 வருடங்கள் 8 மாதங்கள் க்கு முன்னர்

Sadhguru you are super busy I love that.........When do you have time to meditate? Me I have to make time to enjoy the beautiful weather here in town including meditation wich I will never stop practicing this beautiful gift that you had giving me.........

Thank you, and have a wonderful fly around this planet like you allways do. I hope you are able to understand my english hahahhaha 

Love,
Love.

6 வருடங்கள் 8 மாதங்கள் க்கு முன்னர்

Sadhguru, Namaskaram! You're planning every seconds...mhmm..every moments you cross...that's your speciality.
If everybody in this world plans in their own works, like you, then nobody will say "Time's not enough"! It's True! 
We love to follow you!
You know that You are limitless! You've never been old, You're younger than the youngest!

Ungalai ninaikumbothe nenjamellam paravasathil thilaikiradhu, kangalil neer anandhamai vazhigirathu, ennenru solvadhu andha unarvai! Lakshoba laksham makkalukku neengal alitha indha paravasathai,innum meedhamirukum kodanu kodi makkalukkum alikka vizhaigiren!

6 வருடங்கள் 8 மாதங்கள் க்கு முன்னர்

guruvea guruvea

6 வருடங்கள் 7 மாதங்கள் க்கு முன்னர்

  I would like to see Sadhguru in our lovely island, Mauritius , some day. Mauritius still has to learn a lot from Isha Foundation actvities as regards to being and living in an eco-friendly way as well as Inner Engineering.  I wish an Asham is set up to meet the ideals set out by Sadhguru and his team. Jai Hind!

6 வருடங்கள் 7 மாதங்கள் க்கு முன்னர்

I am from Mauritius too. Do we have at least a  satsang group here? Please include contacts. I contacted the main ashram with no reply ever! We need Isha yoga.

6 வருடங்கள் 5 மாதங்கள் க்கு முன்னர்

Superb fotos...missing u all