सद्‌गुरु स्पॉट – बुद्धम् शरणम् गच्छामि मंत्र का उच्चारण

बुद्ध पूर्णिमा 2018 के दिन हुई इस इस रिकॉर्डिंग में, सद्‌गुरु मंत्र “बुद्धम शरणम गच्छामि” का उच्चारण कर रहे हैं। सद्‌गुरु कहते हैं कि मंत्र में बताये गए सभी तीन पहलू आध्यात्मिक मार्ग पर समान रूप से महत्वपूर्ण हैं: बुद्ध – आत्म-ज्ञानी मनुष्य; धम्म – वह विधि जो उसने दी थी; और संघ – सभी लोग जो परम तत्व खोज रहे हैं। सद्‌गुरु कहते हैं, “यदि आप साधकों के साथ रहते हैं, तो आप खुद एक साधक बन जाते हैं।
 

बोल:

बुद्धम् शरणम् गच्छामि

धम्मम् शरणम् गच्छामि

संघम् शरणम् गच्छामि

सद्‌गुरु ने कुछ दिन पहले टेनेसी में ईशा इंस्टीट्यूट ऑफ इनर-साइंसेज में बुद्ध पूर्णिमा दर्शन के दौरान "बुद्धम शरणम् गच्छामि" का उच्चारण किया था। इस स्पॉट में वे उसकी रिकॉर्डिंग हमारे साथ साझा कर रहे हैं। अपनी नई कविता "चंद्रमा" में, सद्‌गुरु पृथ्वी के उपग्रह चन्द्र के इंसानों पर, और विशेष रूप से स्त्रियों पर होने वाले प्रभावों के बारे में बता रहे हैं।