योग आसन सिर्फ शरीर ही नहीं - बल्कि आपकी ऊर्जा, विचार, भावनाओं और वंश से मिले प्रभावों को भी कम कर सकते हैं। आइये जानते हैं योग आसनों का महत्व...

1. अगर आप रूपांतरित होना चाहते हैं, तो सबसे बड़ा रूपांतरण शरीर में होना होगा - क्योंकि शरीर में दिमाग से कहीं बहुत अधिक याद्दाश्त होती है।

रूपांतरण

 

2. आसनों को अगर सही तरीके से किया जाए, तो हर आसन ऊर्जा की एक प्रक्रिया है।

Quote4

 

3. अगर आप जागरूक होकर किसी एक आसन में रहते हैं, तो जैसे आप सोचते हैं, महसूस करते हैं और जीवन को अनुभव करते हैं, उसे यह बदल सकता है। हठ-योग यह कर सकता है।

Quote3

Subscribe

Get weekly updates on the latest blogs via newsletters right in your mailbox.
No Spam. Cancel Anytime.

 

4. गलत कारणों से योगाभ्यास करते हुए भी, अगर आप इसे सही तरीके से करते हैं, तब भी यह काम करता है।

Quote1

 

5. कोई योगिक अभ्यास चाहे कितना भी सीधा और सरल क्यों न लगे, उसमें हमेशा एक आध्यात्मिक आयाम होता है।

Quote2

 

6. आपके मस्तिष्क की गतिविधियां, आपके शरीर की केमेस्ट्री, यहां तक कि आपके वंशानुगत गुण भी योगाभ्यास से बदले जा सकते हैं।

Quote2