खाने के शौकीन हैं और कॉलेस्ट्राल और डायबीटिज से डरते हैं। तब तो आप इसको आजमाइए -

तरह-तरह के व्यंजनों के शौकीन लोगों को भी तब अपना मन रोकना पड़ता है, जब बात उनके सेहत की आ जाती है। कॉलेस्ट्राल और डायबीटिज जैसी समस्याएं उनके भोजन पर रोक सी लगा देती हैं। ऐसे में हम आपके लिए कुछ ऐसे व्यंजन ले कर आए हैं जो आपके सेहत को नुकसान की जगह फायदा पहुंचाएंगे, जो आपकी जुबान और जिगर दोनों को पसंद आएंगे ।

तो रेसिपी से पहले जानते हैं उसमें इस्मेमाल होने वाली सामग्रियों के फायदे, ताकि उन्हें आजमाने या खाने से पहले आपके भीतर कोई सेहत से जुड़ी शंका न रह जाए।

सेहत से भरपूर हैं सारी सामग्रियां

सफेद चने प्रोटीन से भरपूर होते हैं। इतना ही नहीं, यह शरीर में बनने वाले खराब कॉलेस्ट्राल को भी रोकते हैं। यह ब्लड शुगर के स्तर को संतुलित रखने में मददगार होते हैं। जबकि ताहिनी न सिर्फ प्रोटीन से भरपूर होती है, बल्कि यह कैल्शियम का भी बेहतरीन स्रोत है।

जैतून का तेल कॉलेस्ट्राल को नियंत्रित करने के साथ-साथ दिल को कई तरह की समस्याओं से बचाता है।

नींबू का रस एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है, जो शरीर में ऑक्सीजन से जुड़े तनाव को कम करता है। शरीर की प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाता है और बैक्टीरिया व वाइरस से लड़ता है।

टमाटर में जबरदस्त रूप से एंटी ऑक्स्डिेंट, बीटा कैरोटिन, विटामिन ई व विटामिन सी पाए जाते हैं।

तुलसी हमारे शरीर की कोशिकाओं का कई तरह से बचाव करती है। इसकी पत्तियों में पाया जाने वाला तेल एंटीबॉयोटिक दवाओं के इस्तेमाल से शरीर में प्रतिरोधक हुए कई तरह के बैक्टीरिया को रोकने में मदद करता है। तुलसी सूजन को कम करने में मदद करती है और इसके सेवन से गठिया रोग में भी फायदा होता है।

जीरा हमारे अग्नाशय यानी पैंक्रियाज में बनने वाले एंजाइक्वस का उत्पादन बढ़ा कर पाचन क्रिया में मदद करता है।

 

Subscribe

Get weekly updates on the latest blogs via newsletters right in your mailbox.
No Spam. Cancel Anytime.

आइए अब जानते हैं इन सामग्रियों के इस्तेमाल से बनने वाली रेसिपी :

हमस बनाने की रेसिपी हमस बनाने की रेसिपी

टमाटर हमस

 

सामग्री:

सफेद या काबुली चने - एक कप

टमाटर - 4 मध्यम आकार के

ताजा नींबू का रस - दो चम्मच

सफेद तिल - आधा कप

वेजिटेबल ऑइल - आधा कप

जैतून का तेल - 3 चम्मच

जीरा पाउडर - आधा चम्मच

धनिया/तुलसी - आठ पत्ते

नमक - स्वादानुसार

 

बनाने की विधि:

तिल का पेस्ट यानी ताहिनी बनाने के लिए एक कड़ाही में तिल को हल्का गुलाबी भून लें। उसे भुनने के बाद तुरंत गर्म कड़़ाही से निकाल लें, ताकि यह गहरा भूरा न हो पाए। थोड़ा ठंडा होने पर आधे कप तेल के साथ बारीक पीस लें। सफेद चने को अच्छी तरह से धोकर उसे कम से कम चार घंटों के लिए पानी में भिगों दें। फिर इन्हें दो कप पानी के साथ कुकर में गलने के लिए रख दें। चने को निकाल कर इसे मिक्सर में हलका दरदरा पीस लें। पीसते समय अगर जरूरी हो तो उसमें कुछ चम्मच पानी डाल लें। अब इसमें अंदाज से नमक, ताहिनी, नींबू का रस, जीरा पाउडर व जैतून का तेल डालकर इसे दोबारा नरम होने तक पीसें। अब हर टमाटर को बीच से दो टुकड़ों में काट लें और टमाटर के दोनों हिस्सों के सिरों से पतली स्लाइस काट कर अलग कर लें, जिससे टमाटर को रखने में आसानी हो, वे लुढक़े नहीं। अब टमाटरों का गूदा व बीज निकल कर उन्हें कटोनीनुमा खाली कर दें। अब टमाटरों के खाली हिस्से में चने का मिश्रण भर दें। एक प्लेट में सजाकर हर टमाटर को एक धनिया या तुलसी के पत्ते से सजाएं और परोसें।