कावेरी पुकारे अभियान के झलकें – तिरुवरुर से चिदंबरम का सफर

त्रिची और तंजावुर के बाद रैली तिरुवरुर पहुंची और फिर वहाँ से चिदंबरम के लिए रवाना हुई।
कावेरी पुकारे अभियान के झलकें – तिरुवरुर से चिदंबरम का सफर
 

आज सुबह, कावेरी पुकारे रैली दोपहर के भोजन के लिए माइलदूतुराई के शहर में पहुंची

day-12-caca-eng-blog-pic1

पारंपरिक ढोल और सुन्दर पोशाकों के साथ, स्वयंसेवक इसे सभी के लिए एक यादगार दावत बनाने में जुटे थे। उन्होंने दक्षिणी तमिल नाडू के 25 ज़ायकेदार व्यंजन केले के पत्ते पर परोसे।

day-12-caca-eng-blog-pic2

माइलदूतुराई की विशालाक्षी, कावेरी पुकारे अभियान का हिस्सा होकर बहुत खुश थी।

day-12-caca-eng-blog-pic3

“सद्‌गुरु के कावेरी पुकारे अभियान चलाने से पहले, हमें ये नहीं पता था कि पेड़ों के काटने की वजह से कावेरी सूख रही है। तो हमने ये सन्देश अपने सभी मित्रों और रिश्तेदारों के बीच फैलाया और उन्हें योगदान देने के लिए कहा। हमें बहुत ख़ुशी है कि सद्‌गुरु हमारे शहर में आए हैं।” उन्होंने बताया।

cc-lunch-5-vol