कैलीफोर्निया ईशा केंद्र का शुभारंभ

12 मई, 2013 को, मदर्स डे के दिन, सद्गुरु व यूएस तथा कनाडा से आए लगभग तीन सौ ईशा साधक, कैलीफोर्निया के सैन जुआन बाउतिस्ता में एकत्र हुए, उन्होंने नव-स्थापित ईशा केंद्र की पहाड़ियों पर, जैतून के 1008 वृक्ष लगाए। कुछ साल पहले, एक ईशा स्वयंसेवक ने केंद्र के लिए 62 एकड़ की यह भूमि उपहार में दी थी।
 
 

12 मई, 2013 को, मदर्स डे के दिन, सद्गुरु व यूएस तथा कनाडा से आए लगभग तीन सौ ईशा साधक, कैलीफोर्निया के सैन जुआन बाउतिस्ता में एकत्र हुए, उन्होंने नव-स्थापित ईशा केंद्र की पहाड़ियों पर, जैतून के 1008 वृक्ष लगाए। कुछ साल पहले, एक ईशा स्वयंसेवक ने केंद्र के लिए 62 एकड़ की यह भूमि उपहार में दी थी। प्रत्येक वृक्ष को उसी व्यक्ति द्वारा नाम दिया गया, जिसने उसे लगाया था। पहला वृक्ष सद्गुरु ने लगाया, उन्होंने अपने वृक्ष को भूमा नाम दिया। वृक्षारोपण की सुबह के बाद, स्थानीय स्वयंसेवकों ने आलीशान दावत का अयोजन किया। इसके बाद, सभी बकी वृक्ष की घनी छाया तले जमा हुए और सद्गुरु ने सत्संग का आयोजन किया। उन्होंने उस दिन को याद किया, जब अनेक वर्ष पूर्व, भारत में योग केंद्र की स्थापना हुई थी और वह किस तरह फला-फूला। उन्होंने कहा कि वे कैलीफोर्निया केंद्र को भी उसी प्रकार फलता-फूलता देखना चाहते हैं। उन्होंने घोषणा की कि सितंबर 15, 2015 तक, वहाँ कैलीफोर्निया केंद्र में एक प्रतिष्ठित स्थान तथा बुनियादी ढाँचा होगा। सभी स्वयंसेवक इस दिशा में कार्य करने के लिए कमर कस कर तैयार हैं!

ईशा ब्लॉग पर पूरा लेख पढ़ें