शास्त्रीय संगीत

भारतीय शास्त्रीय संगीत पश्चिमी संगीत से कैसे अलग है

भारतीय शास्त्रीय संगीत पश्चिमी संगीत से कैसे अलग है?

जानते हैं कि कैसे भारतीय शास्त्रीय संगीत में संगीत एक खोज की तरह है, कोई संगीतकार किसी चीज़ को दोहराता नहीं। जबकि पश्चिमी शास्त्रीय... ...
और पढ़ें
ihs-learning-mridangam

भारतीय शास्त्रीय संगीत: जहां हर ध्वनि एक संगीत है

जो इंसान ध्वनि की संपूर्णता का अनुभव नहीं कर पाता, उसके लिए हर ध्‍वनि एक शोर है, क्योंकि वह उसे टुकड़ों में सुनता है। जो अस्तित्व की संपूर्णता को सुनता है, उसके लिए सब कुछ संगीत है। ऐसा कुछ भी नहीं है, जो संगीत न हो। ...
और पढ़ें
20060717_IQB_0081

मनोरंजन से परे संगीत का चमत्कार

इस लेख में सद्गुरु भारतीय शास्त्रीय संगीत की दो बड़ी शाखाओं - हिंदुस्तानी और कर्नाटक संगीत के बीच ध्वनि और भावों में अंतर समझाते हुए कहते हैं कि अगर आप अपने भीतरी दरवाजे खोलने को तैयार हैं, तो संगीत आपके अंदर चमत्कारी चीज ...
और पढ़ें