जीवन

उपासना – अपने जीवन में हीरो न बनें, साइड रोल करें

भक्ति मार्ग का एक रूप उपासना कहलाता है। इसका अर्थ है मुख्य न होकर गौण हो जाना। जानते हैं कि ये कैसे आध्यात्मिक विकास... ...
और पढ़ें
आध्_यात्मिक विकास के लिए अपना कैसा व्_यक्तित्_व बनाएं

आध्‍यात्मिक विकास के लिए अपना कैसा व्‍यक्तित्‍व बनाएं?

सद्‌गुरु हमें बता रहे हैं कि किसी ख़ास व्यक्तित्व या “मैं” की भावना के बिना दुनिया में काम करना संभव नहीं, लेकिन जब यही... ...
और पढ़ें
क्या समाज के कर्मों का भी हमारे जीवन पर असर पड़ता है

क्या समाज के कर्मों का भी हमारे जीवन पर असर पड़ता है?

हमारे जीवन में कई बार ऐसे हालात आते हैं, जहां हमें लगता है कि हम बिना गलती किए सजा भुगत रहे हैं। क्या समाज... ...
और पढ़ें
जीवन को उत्‍तम ढंग से जीने का सूत्र-RKK2005-copy

जीवन काे उत्‍तम ढंग से जीने का सूूूत्र

इस बार के स्पॉट में सद्‌गुरु हमें बता रहे हैं कि लक्ष्य बनाकर हम सिर्फ भौतिक स्तर पर कुछ पा सकते हैं, लेकिन जीवन... ...
और पढ़ें

इन्‍कार नहीं, स्वीकार करना सीखें

सद्‌गुरु आध्यात्मिक मार्ग पर सहनशीलता और स्वीकृति के अंतर के बारे में बता रहे हैं। वे बताते हैं कि योग आसन भी शारीरिक स्तर... ...
और पढ़ें
ईशा लहर दिसम्बर 2017 - सन्यास के अनूठे पहलुओं को जानें सद्‌गुरु से

ईशा लहर दिसम्बर 2017 – सन्यास के अनूठे पहलुओं को जानें सद्‌गुरु से

वो जाड़े की एक सुबह थी। मैं आश्रम में, नालंदा कॉन्फ्रेंस सेंटर के प्रांगण में एक स्वामी जी के साथ टहल रही थी। हरी-हरी... ...
और पढ़ें

वाक् शुद्धि : हर ध्वनि हम पर असर डालती है

अध्यात्म की साधना करने वालों को मन्त्रों का जप करने की सलाह क्यों डी जाती है? क्या असर होता है उस ध्वनि का जो हम बोलते हैं? क्या है वाक् शुद्धि, मंत्र साधना? ...
और पढ़ें
चुपचाप बैठना

अकेले बैठना इतना मुश्किल क्यों लगता है?

एक साधक जानना चाहते हैं कि बिना किसी काम के बस अकेले बैठकर दिन बिताना मुश्किल क्यों लगता है। सद्‌गुरु हमें इसका कारण और... ...
और पढ़ें