योग रहस्‍य

योग में सिर्फ 84 मूल आसन ही क्यों होते है?

योग विज्ञान के अनुसार शरीर में 112 चक्र और 112 ध्यान के तरीके होते हैं, लेकिन मूल आसन सिर्फ 84 होते हैं। जानते हैं... ...
और पढ़ें

पूर्णिमा या अमावस्या – साधना में कौन सा दिन मदद करता है?

अध्यात्मिक साधकों के लिए पूर्णिमा और अमावस्या दोनों एक अलग अहमियत रखते हैं। आख़िर दोनों का क्या प्रभाव पड़ सकता है हमारी साधना पर... ...
और पढ़ें

नवजात शिशु क्या सातों चक्रों के साथ पैदा होता है?

गर्भधारण के बाद भ्रूण में ऊर्जा चक्र कब और कैसे बनते हैं? सद्‌गुरु उसकी प्रक्रिया और समय के बारे में बता रहे हैं, और... ...
और पढ़ें
घर में शालिग्राम की कैसे करें देखभाल?

घर में शालिग्राम की कैसे करें देखभाल ?

शालिग्राम को दिव्य ऊर्जा से भरपूर माना जाता है। कैसे करते हैं इसकी देखभाल? क्या हमारे जीवन पर इसका उल्टा असर भी हो सकता... ...
और पढ़ें

शरीर के 112 चक्रों को 7 चक्रों के रूप में क्यों जाना जाता है?

मानव शरीर में 112 चक्र होते हैं, लेकिन आदियोगी शिव ने इन्हें सात वर्गों में बांटा था और सप्त ऋषियों को दीक्षित किया था।... ...
और पढ़ें

सहस्रार चक्र – परमानंद व भरपूर नशे का केंद्र

 इस ब्लॉग में सद्‌गुरु सहस्रार चक्र के बारे में बता रहे हैं, जिसमें भरपूर नशा और परमानंद हैं। वह समझा रहे हैं कि क्यों... ...
और पढ़ें
शक्ति चलन क्रिया और शाम्भवी महामुद्रा – दोनों में क्_या अंतर है-20060319_SHA_0157-e

शक्ति चलन क्रिया और शाम्भवी महामुद्रा – क्या है इनमे अंतर?

शक्ति चलन क्रिया करके हम अपने प्राणों पर महारत पा सकते हैं। शाम्भवी महामुद्रा में भी प्राणायाम का एक आयाम मौजूद है, फिर क्या... ...
और पढ़ें