शिव और कन्याकुमारी की प्रेम कहानी

दक्षिण भारत की योग-परंपरा काफी रोचक है। इसकी शुरुआत तब हुई जब महायोगी भगवान शिव खुद दक्षिण भारत आये, और उन्होंने वहां के एक पर्वत शिखर पर समय बिताया। इस पर्वत का नाम वेल्लिंगिरी पर्वत है, और इसे दक्षिण का कैलाश भी कहते हैं। आइये इस विडियो के माध्यम से जानते हैं, कि ऐसी क्या वजह थी – कि शिव खुद दक्षिण भारत तक आ गए…


संबन्धित पोस्ट


Type in below box in English and press Convert



1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *