नये ब्लॉग पोस्ट

आपके भीतरी अनुभव को क्_या कोई दूसरा तय कर सकता है

आपके भीतरी अनुभव को क्‍या कोई दूसरा तय कर सकता है?

 सेलिब्रिटी शेफ संजीव कपूर ने सद्‌गुरु से जानना चाहा कि खुशी बांटने के लिए कोई काम करने, और खुशी हासिल करने के लिए कुछ... ...
और पढ़ें
ध्यानलिंग की ऊर्जा को अनुभव करने का सरल तरीका

ध्यानलिंग की ऊर्जा को अनुभव करने का एक सरल तरीका

 नाद आराधना यानी ध्वनि की भेंट, ईशा योग केंद्र में स्थित ध्यानलिंग मंदिर में रोजाना सुबह 11:45 और शाम 5:45 बजे होती है। आख़िर... ...
और पढ़ें

ईक्विनॉक्स का आध्यात्मिक महत्व क्या है?

 ईक्विनॉक्स यानी विषुव वह दिन है जब दिन और रात बराबर होते हैं। इस दिन आकाशीय भूमध्य रेखा पूरी तरह सूर्य की सीध में... ...
और पढ़ें

सद्‌गुरु, आप मृत्यु के बाद कहाँ जाएंगे?

 आज के स्पॉट में सद्‌गुरु बता रहे हैं कि उनके शरीर छोड़ने के बाद क्या होगा। उन्होंने जिन लोगों को एक गुरु के रूप... ...
और पढ़ें

अगस्त्य मुनि जैसा योगी तैयार करना क्या संभव है?

 क्या आज की दुनिया में अगस्त्य मुनि जैसा दूसरा महान प्राणी तैयार करना संभव है? अगर नहीं तो क्यों? अगर हाँ तो कैसे? सद्‌गुरु... ...
और पढ़ें

सहस्रार चक्र – परमानंद व भरपूर नशे का केंद्र

 इस ब्लॉग में सद्‌गुरु सहस्रार चक्र के बारे में बता रहे हैं, जिसमें भरपूर नशा और परमानंद हैं। वह समझा रहे हैं कि क्यों... ...
और पढ़ें