29 नवम्बर के दिन ईशा विद्या को दें सहयोग

_20070808_iqb_0011-e

ईशा विद्या, ईशा फाउंडेशन का ग्रामीण बच्चों को शिक्षित करने से जुड़ा प्रकल्प है। आइये जानते हैं इसके लक्ष्यों और उपलब्धियों के बारे में, और साथ ही ये कि कैसे हम ईशा विद्या को अपना सहयोग दे सकते हैं।

ईशा विद्या स्कूलों की श्रृंखला की शुरुआत साल 2006 में हुई थी, और आज इस सफ़र में अनोखेपन, शिक्षा और प्रेरणा से भरे 10 साल गुज़र चुके हैं। हमने हाल ही में, इस दसवीं सालगिरह के उपलक्ष्य में “इन्नोवेटिंग इंडिया’स स्कूलिंग” या “भारत की शिक्षा में नई राहें” नाम के एक शिक्षा सम्मलेन का आयोजन किया।

ईशा विद्या के नौ स्कूलों के माध्यम से, आज 7,154 बच्चे उच्च स्तर की शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

ईशा शिक्षा ट्रस्ट के एक हिस्से के रूप में, ईशा विद्या, तमिल नाडू और आंध्र प्रदेश के ग्रामीण बच्चों को शिक्षित करने के लिए अथक प्रयास कर रही है। फिलहाल आठ ईशा विद्या स्कूल ग्रामीण तमिल नाडू में, और एक आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में अपोलो फाउंडेशन के सहयोग से चल रहा है। इन स्कूलों के माध्यम से, आज 7,154 बच्चे उच्च स्तर की शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

ईशा विद्या तमिल नाडू के 60 सरकारी स्कूलों को भी सहयोग प्रदान कर रही है, जिससे 40,000 से ज्यादा ग्रामीण बच्चों के जीवन पर सकारात्मक असर पड़ रहा है।

स्कूलों की दैनिक कार्य प्रणाली का प्रबंधन करने के लिए, और जरुरी बुनियादी ढांचे को बनाने के लिए एक बड़ी धन राशी, और पूरे विश्व में मौजूद हमारे दानकर्ताओं की उदारता की भी जरूरत है।

 

ईशा विद्या और ग्लोबल गिविंग

अगर आप ईशा विद्या को समर्थन देना चाहते हैं, और ग्रामीण बच्चों के जीवन को बेहतर बनाना चाहते हैं, तो अभी ऐसा करने का बहुत अच्छा समय है!

ग्लोबल गिविंग के माध्यम से गिविंग ट्यूसडे या एक विशेष मंगलवार के दिन किये गए दान के साथ ही, उस दान की आधी राशि के बराबर का दान, बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा भी ईशा विद्या को जाएगा।

हर साल, गिविंग ट्यूसडे साल के अंत में आयोजित किया जाता है। इसका लक्ष्य जरुरतमंदों की मदद करना होता है। इस साल, गिविंग ट्यूसडे 29 नवम्बर के दिन है।

ग्लोबल गिविंग एक जानी-मानी धन राशि इकट्ठा करने से जुड़ा मंच या वेब साईट है। ईशा विद्या ग्लोबल गिविंग के साथ रजिस्टर्ड है। हाल ही में, ईशा विद्या ने ग्लोबल गिविंग फोटो कांटेस्ट 2016 जीता, जिसका श्रेय पूरे विश्व के ईशा विद्या समर्थकों को जाता है।

हर साल, गिविंग ट्यूसडे साल के अंत में आयोजित किया जाता है। इसका लक्ष्य जरुरतमंदों की मदद करना होता है। इस साल, गिविंग ट्यूसडे 29 नवम्बर के दिन है। ग्लोबल गिविंग के माध्यम से गिविंग ट्यूसडे या मंगलवार के दिन किये गए दान के साथ ही, उस दान के आधे के बराबर का दान बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा भी ईशा विद्या को जाएगा।

इसका अर्थ है, ईशा विद्या को मिले हर 10 रुपये के साथ, बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन अपनी ओर से 5 रुपये जोड़ देगी। [ग्लोबल गिविंग में पैसे से लेन-देन से जुड़ा शुल्क और हर देश के हिसाब से मुद्रा परिवर्तन से जुड़ा शुल्क, दान की धन राशि से काट लिया जाएगा। ]

अगर आपका मानना है कि शिक्षा ही बेहतर समाज का निर्माण कर सकती है, तो कृपया हमसे जुड़ें और 29 नवम्बर के दिन ईशा विद्या को दान करें। आप इस सुचना को मित्रों, रिश्तेदारों और सहकर्मियों के साथ बांट कर भी हमारी मदद कर सकते हैं।

कृपया निम्न तारीखों को नोट कर लें

दान देने के लिए लिंक: http://www.globalgiving.org/projects/ishavidhya

समय

भारत : 29 नवम्बर सुबह 10:30 बजे से लेकर 30 नवम्बर सुबह 10:29 बजे

यु. एस. ए, ईस्टर्न स्टैण्डर्ड टाइम : 29 नवम्बर 29 रात 12 बजे से लेकर 30 नवम्बर रात 12 बजे

यु. एस. ए, पेसिफ़िक स्टैण्डर्ड टाइम : 28 नवम्बर रात 9 बजे से 29 नवम्बर 8:59 बजे तक

नोट करें : हम आपको इस कैंपेन के शुरू होने के दो घंटों के भीतर ही दान दे देने की सलाह देते हैं। क्योंकि हो सकता है कि गेट्स फाउंडेशन द्वारा इस दान के लिए निश्चित धन राशि कुछ समय बाद समाप्त हो जाए। कुल मिलाकर गेट्स फाउंडेशन की ओर से 500,000 डॉलर की धन राशि उपलब्ध है।

अगर आप कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं, तो कृपया global.giving@ishavidhya.org पर ईमेल लिखें। आपके सहयोग के लिए आपका धन्यवाद!


संबन्धित पोस्ट


Type in below box in English and press Convert