घर में बनाएं देवी का प्रसाद

घर में बनाएं देवी का प्रसाद

सद्‌गुरुभारत कई अर्थों में विविधताओं से भरा देश है। यहां उत्तर से दक्षिण और पूरब से पश्चिम यानी हर दिशा में हर तरह की विविधता है। भाषा, बोली, पहनावा के अलावा भोजन में भी बहुत विविधता मिलती है। इस स्तंभ के जरिए आप अकसर उत्तर भारतीय व्यंजन तो आजमाते ही रहते हैं, क्यों न इस बार एक दक्षिण भारतीय व्यंजन आजमाइए। इस व्यंजन का नाम है ‐ ‘रसायन’। घबराइए नहीं, हमारा मतलब किसी ‘केमिकल’ से नहीं है। ‘रसायन’ कर्नाटक का परंपरागत व्यंजन है। यह नवरात्रि में देवी को चढ़ाया जाने वाला आदर्श प्रसाद है। इसे आप एक डेजर्ट के रूप में भी आजमा सकते हैं। तो आजमाइए और हमें भी बताइए।

सामग्री:

  1. केले : 7 से 8 (पके हुए)
  2. ताजा नारियल : सवा कप (कद्दूकस किया हुआ)
  3. इलायची पाउडर: एक चुटकी
  4. गुड़/ब्राउन शुगर (चूरा): पांच बड़े चम्मच
  5. घी: एक छोटा चम्मच (साथ ही बादाम को भूनने के लिए थोड़ा सा और घी)
  6. शहद: तीन बड़े चम्मच
  7. बादाम: एक बड़ा चम्मच
  8. किशमिश: एक बड़ा चम्मच
  9. केसर: कुछ धागे (इच्छानुसार)

रेसिपी :

  1. केले को छीलकर उन्हें आधे-आधे इंच के क्यूब में काट लीजिए।
  2. कटे हुए टुकड़ों को एक बर्तन में डाल दीजिए।
  3. उसमें गुड़़ मिला लीजिए।
  4. कसे हुए नारियल को चौथाई कप हल्के गर्म पानी और इलायची पाउडर के साथ मिलाकर मिक्सर में डालिए और महीन पेस्ट तैयार कर लीजिए।
  5. जाली या महीन छलनी से छान कर नारियल का गूदाएक बर्तन में निकाल लीजिए।
  6. नारियल के गूदे को केले और गुड़ में मिला लीजिए।
  7. उसमें घी और शहद डालकर अच्छी तरह मिला लीजिए।
  8. अब बादाम को भिगोकर छील लीजिए।
  9. उनके पतले टुकड़े काट लीजिए और हल्के से घी में थोड़ा भून लीजिए।
  10. परोसने से ठीक पहले, किशमिश और भुने हुए बादाम के कतरों से सजाइए।
  11. अगर चाहें तो केसर के कुछ धागे दूध में डुबोएं और उसे अच्छी तरह कूट लें। उसे इस मिश्रण में मिला लीजिए।

 


संबन्धित पोस्ट


Type in below box in English and press Convert